Gamekaguru

Sabhi Game Ka Guru

Candy Crush Saga Kese Khele

कैंडी क्रश किसने बनायीं ?, Candy Crush Saga Kese Khele? , कैंडी क्रश का मालिक कोन है?, कैंडी क्रश का नाम कैसे पड़ा?। कैंडी क्रश किस देश ने बांयी? कैंडी क्रश कैसे खेले ?कैंडी क्रश में हार्ट कहासे लाये ? कैंडी क्रश फेसबुक पे लॉगिंग कैसे करे ?

हेलो दोस्तों मेरा नाम है नीलेश और आप ने इस पोस्ट पर कैंडी क्रश के बारे मे जानने के लिए ही क्लिक किया होगा , तो में आपको दावे के साथ कह सकता हु की आप ने एकदम सही पोस्ट पर क्लिक किया है। आपको अब कैंडी क्रश के बारे में सभी जानकारी हमारी पोस्ट पर मिल जाएगी बस एक बार पूरा पढ़ पर देखिये।

कैंडी क्रश किसने बनायीं ?(Candy Crush Saga Kese Khele?)

जिसका पूरा नाम कैंडी क्रश सागा है। कोय बभी गेम हो जो लोकप्रिय होने के बाद सब जनन्ना चाहते है की इस गेम को किसने बनाया होगा ? ये नाम कैसे दिया होगा ?कम्पनी का नाम? किस देश ने बनाया game? तो आपके सरो सवलो का जवब है मेरे पास। तो कैंडी क्रश बनाने वाले का नाम सेबेस्टियन नटससँन है

कैंडी क्रश का मालिक कोन है?  (Who Owns Candy Crush?)

कैंडी क्रश को बनाने वाला सेबेस्टियन नटससँन जिसकी कम्पनी औ खुद इस कम्पनी के चीफ है। और उनकी कम्पनी का नाम किंग डिजिटल एंटटेन्मेन्ट है।

कैसे बनी कैंडी क्रश?(Who made Candy Crush?)

तो इसे बनाने का विचार तो सबसे पहले सेबेस्टियन नटससँन को ही आया था। जो किंग डिजिटल एंटटेन्मेन्ट के चीफ यानि मालिक है। वैसे हर किसीको बचपन में गेम खेलना सबको ही पसंद होता है। वैसे ही सेबेस्टियन नटससँन को भी था लेकिन कुस ज्यादा ही था और औ एक ऐसी गेम बनान चाहते थे जिसे खेल कर लोग बस एक बार खेले और खेलंटे ही रहे जो लोगो के दिलो दिमाग में बस जाये ,  जब एक टेट्रिज 90 s के दौरान औ वीडियो गेम खेलते थे वही से उन्हें ऐसा गेम जो लगे सबको आसान पर दिमाग बहुत लगाना पड़े वैसे विचार के साथ उन्होंने इसे बनाया  जो उन्होंने 2012 में इस गेम को बनाया और ऐसे प्ले स्टोर पर -Nov-2012 में लॉन्च किया

गेम डिटेल्स(Game details)

तो इस गेम को 2012 में लॉन्च किया गया था जैसी ही प्ले स्टोर पे गेम आयी वैसे ही कुसी समय में इसने धूम मचदी।अगर बात करे अभी हल के समय की तो आय इस गेम की रेटिंग 4.6 की है जो काफी बड़ी बात है , और सबसे बड़ी बात आप जानकर हैरान हो जाएंगे की इस गेम को आज तक कितने लोगो ने डाऊनलोड किया है ? तो में आपको बता दू की इस गेम को आजतक 1 बिलियन से भी ज्यादा यानि की 1000 करोड़ (1.00,00,00,000+) बार डाउनलोड किया गया है।

कैंडी क्रश का नाम कैसे पड़ा?(How was candy crush named?)

अब ये नाम की पिसे की कहानी तो बहुद ही मजेदार है ,सेबेटियाँ के इसके बारे में बताया की इस गेम का नाम उन्होंने इसलिए रखा क्योकि सेबेटियाँ को कैंडीज बिलकुल ही पसंद नहीं थी उन्हें तो चॉकलेट पसंद थी। पर उन्हों ने सोचा की अगर लोगो को गेम पसंद करनी है ये गेम के नाम महि मिठास होनी चाहिए। तो उंहोने थान लिया की में अपनी ना पसंद दूसरोकि पसंद बनाऊंगा , तो उनहोने सबसे पहले इसका नाम केन्डी रखा पर ये उन्हें कुस अधूरा सा लग रहा था तो उन्होंने पइसे क्रस लगा दिया जिसका मतलब तकरार, मसलना होता है . तो बस तभी से उन्हें कैंडी क्रश नाम दे दिया गया

Candy Crush Saga Kese Khele ?(How to play Candy Crush?)

तो कैंडी क्रश आपको सबसे पहले डाऊनलोड करनी पड़ेगी और ये गेम आप मोबाईल , कम्प्यूटर, iso पर हर जगह खेल सकते हो। आप मोबाईल में ऐसे पालय स्टोर से डाऊनलोड कीजिये सबसे पहले , फिर इनिस्टोल करने के बाद आपको जैसे ऊपर फोटो में देख सकते हो ऐसा ऑप्सन आएगा, जिसे आप gmail या fasbook पे लॉगिंग कर लीजिये , फिर आपको गेम में hoe to polay का भगी ोपासन मिलेगा जिसे गेम खुद आपको सिखाएंगे की कैसे खेलना है। इसमें लेवल पर करना होता है। जिसमे 1 गेम खेलने के लिए आपको हार्ट कि जरुरत पड़ेगी , जो आपको गेम जितने पे और फेसबुक फ्रेंड से मिलते रहेंगे। और समे आपको 1se 1000 के लेवल मिलेंगे जो काफी ज्यादा है और सरुआत में आपको आसान लेवल मिलेंगे और बाद में जैसे लेवल बढ़ता जायेगा उसे तरासे मुश्किल लेवल आने सरु होजाएंगे।

Read Also : 8 Ball Pool Kese Khele Complete information in hindi

और अस्मे आप हैड और गोल्ड खरीद सकते हो। और जब आपले लेवल पार न हो तब उसे आप को कही चीजे खरीद सकोगे जो आपको लेवल पार करनेमे मदत करेंगी। और अगर ये गेम आपके दोस्त भी खेलते है तो AO किस लेवल पर है इस गेम मे ओभी बताएंगे। उसकी फोटो के साथ , और आप एक दूसरेको हार्ट भी सेंड कर सकते हो।तो

केसी लगी जानकारी (How much information)

अगर आपके सारे Answer Ka जवाब आपको इस पोस्ट में मिल गया है तो पोस्ट को जरूर सेर करना और अगर कुस रे गया तो हमें कॉमेंट में बता सकते हो आप।

Categories: Other Game

Tags: , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *